मन की बात’ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘लॉक डाउन’ से परेशानी पे देशवासियों से माफी मांगी और कहा ‘सोशल डिस्टेंस बढ़ाओ, इमोशनल डिस्टेंस घटाओ’

स्वास्थ्य समाचार
नई दिल्ली:आज सुबह 11 बजे मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने देशवासियों को अपने मन की बात रखते हुवे कहा कि मेरे कुछ फैसलों की वजह से आपके जीवन में परेशानी आ गयी हैं,खास तौर पे गरीबों को सबसे ज्यादा दिक्कते हुई हैं।नरेंद्र मोदी ने कहा मुझे मालूम हैं कुछ लोग मेरे इस फैसले से नाराज भी होंगे और कहा लेकिन कोरोना वायरस से लड़ने के लिए हमारे पास लॉक डाउन के सिवा दूसरा और कोई रास्ता नहीं हैं।प्रधानमंत्री मोदी ने कहा ये लॉक डाउन आपको बचाए रखने के लिए बहुत जरूरी हैं।

 

प्रधानमंत्री ने लॉक डाउन से होने वाली परेशानियों के लिए मांगी माफी!
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों से लॉक डाउन में लिए गए कड़े फैसलों के लिए माफी मांगी और कहा इन फैसलों की वजह से आपके डेली जीवन में बहुत परेशानियां आ रही हैं,खासतौर पे गरीबों को बहुत ज्यादा दिक्कते उठानी पड़ रही हैं।प्रधानमंत्री ने कहा में आपकी इन समस्याओं को समझ सकता हूं और इसके लिए मैं आप सब से माफी मांगता हूं।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों से कहा COVID 19 से लड़ने में हमें बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा हैं और उन्होंने कहा वैश्विक बीमारी कोरोना वायरस को हराने के लिए पूरे देशवासियों का साथ चाहिए।

 

लॉक डाउन के नियमों को नहीं मानने वाले कुछ लोग अपने व दूसरों के जिंदगी से खिलवाड़ कर रहें हैं!
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कुछ लोग लॉक डाउन के नियमों का पालन नहीं कर कर रहे हैं जो की सही नहीं हैं,प्रधानमंत्री ने कहा की मैं समझ सकता हु कोई जान बूझकर काननू नही तोड़ना चाहता है,लेकिन कुछ लोग है जो ऐसा कर रहे हैं।प्रधानमंत्री ने ऐसे लोगों के लिए कहा जो लोग लॉक डाउन के नियमों पालन नही कर रहे हैं ,तो ऐसे में फिर इस बीमारी का पालन करना मुश्किल हो जाएगा।उन्होंने कहा लॉक डाउन का पालन नहीं करने वाले लोग अपने व दुसरों की जिंदगी से खिलवाड़ कर रहे हैं।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना से लड़ रहे सारे देश के कर्मचारियों का धन्यवाद किया,स्वास्थ्यकर्मियो का स्पेशल धन्यवाद किया।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों का धन्यवाद तो किया ही साथ में उन्होंने कहा इस कठिन समय में काम करने वाले कर्मचारी जो अपने सेवाएं प्रदान कर रहें उनका में बहुत आभारी हूं और उनको मै धन्यवाद करता हूं।प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्वास्थ्य कर्मचारियों का बार-बार धन्यवाद किया और पीएम ने कहा कि डॉक्टर, नर्स, मेडिकल स्टाफ से हमें सीखने की जरूरत है।पीएम ने कहा कि कोरोना को हराने वाले साथियों से हमें प्रेरणा लेने की जरूरत है।

 

प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस से ठीक हुवे लोगों से की बात
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस से ठीक हुवे लोगों से बात की और देशवासियों के सामने उनकी मन की बातों को रखा और लोगों के मन में इस वायरस से लड़ने के लिए आत्मविश्वास जगाया।प्रधानमंत्री ने प्रधानमंत्री ने कोरोना के मरीजों का इलाज करने वाले डॉक्टरों से भी बात की और डॉक्टरों ने कहा की वे मरीजों की सेवा के लिए 24 घन्टे पूरे मन से मरीजों का इलाज कर रहे हैं।प्रधानमंत्री ने आचार्य चरक की पंक्तियों की चर्चा करते हुए कहा.. कि जो बिना किसी भौतिक कामना के मरीजों की सेवा करता है, वही सच्चा और सबसे बढ़िया डॉक्टर है. पीएम ने कहा कि वे सभी नर्सों को सैल्युट करते हैं जो अतुलनीय निष्ठा के साथ मरीजों की सेवा कर रहे हैं.

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा ‘सोशल डिस्टेंस बढ़ाओ, इमोशनल डिस्टेंस घटाओ’
प्रधानमंत्री ने कहा की मैंने लोगों को सोशल डिस्टेंस को जितना हो सके बढ़ाने लिए कहा हैं,लेकिन उन्हें इमोशनल डिस्टेंस को घटाना होगा और वो अपने सगे-संबंधियों, पुराने दोस्तों, परिचितों से बात करें।प्रधानमंत्री मंत्री ने कहा की यह समय एक-दूसरे का साथ देने का समय हैं इस समय हम सोशल डिस्टेंस को थोड़ा बढ़ाकर और इमोशनल डिस्टेंस को घटाकर लोगों की मदद के लिए आगे आये,जरूरतमंदों की मदद करें और देश को इस वैश्विक महामारी से बचाए।

 

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of