कोरोना वायरस ने लोगों को शहर छोड़ने के कर दिया मजबूर।कोरोना वायरस के डर से अब लोगों को आने लगी हैं गाँव की याद।….Corona virus forced people to leave the city. People have started remembering the village due to fear of Corona virus…

स्वास्थ्य समाचार

सभी शहरों में काम करनें वाले मजदूर से लेके बड़े ओहदे पे काम करने वाले लोगों को अब गाँव की याद आने लगी हैं।जैसे-जैसे कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ रही हैं वैसे ही लोगों के मन में कोरोना वायरस का डर बढ़ते जा रहा हैं।

 

प्रधानमंत्री द्वारा पूरे देश भर में 21 दिनों का लॉक डाउन किया गया है।लॉक डाउन में प्रधानमंत्री ने कहा जो जहाँ है वहीं रहे और घर से बाहर न निकले।लॉक डाउन के चलते यातायात के सारे साधन बंद हो चुके हैं।

 

लेकिन कोरोना वायरस के प्रकोप से शहरों में रहने वाले लोग बेरोजगार हो चुके हैं जिस कारण लोगों को बहुत परेशानियों से जूझना पड़ रहा है,जो लोग दिन की दिहाड़ी में काम कर रहे हैं उन लोगों का जीना मुश्किल को चुका हैं।इसलिए लोगों को अब गाँव की याद आने लगी हैं ।


यातायात के साधन नहीं होने के कारण लोगों ने गाँव जाने के लिए अब पैदल यात्रा करना सुरु कर दी हैं।UP के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बयान के द्वारा कहा की जो लोग यातायात के साधन न होने के कारण बीच में ही फसे हुवे हैं ,ऐसे लोगों के लिये UP सरकार मदद कर रहीं है और इन लोगों को सरकार घर पहुचाने की पूरी कोशिश में लगी हैं।

 

देर रात ट्वीट करके मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तराखंड के CM को भरोशा दिलाया और कहा कि उत्तराखंड के सभी निवासी जो कोरोना वायरस की वजह से फसे हैं उन लोगों के भोजन व संरक्षण की व्यवस्था UP सरकार द्वारा की जाएगी।”

 

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of